काल भैरव मंत्र

ओम कालभैरवाय नम:
ओम ह्रीं बं बटुकाय आपदुद्धारणाय
कुरूकुरू बटुकाय ह्रीं
ओम भ्रं कालभैरवाय फट्
जय भैरव देवा, प्रभु जय भैंरव देवा।

अर्थ – हे काल भैरव आपको हमारा प्रणाम है, आप इस संसार में रहने वाले प्रत्येक प्राणी का उद्धार करते है। हे काल भैरव आपकी जय हो, आप सभी मनुष्यों को एक समान नजर से देखते है, आप हम पर अपनी नजर बनाए रखे।

Verified by MonsterInsights